Ayodhya Verdict पर पाकिस्तान ने उठाये सवाल, भारत ने दिया ये जवाब

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को अयोध्या जमीन विवाद पर फैसला (Ayodhya Verdict) सुनाते हुए विवादित जमीन को रामलला को दिया है जबकि मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में ही 5 एकड़ जमीन देने का आदेश दिया है। इस फैसले पर दुनिया के कई देशों से प्रतिक्रियाएं आई है। जहां ज्यादातर देशों ने इस फैसले (Ayodhya Verdict) का स्वागत किया है वहीं पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान इस फैसले से खुश नजर नहीं आ रहा है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इस फैसले के समय पर सवाल उठाये है। कुरैशी ने कहा है कि अयोध्या मामले पर फैसला उस दिन सुनाया जा रहा है जिस दिन करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन हो रहा है। क्या इस फैसले को थोड़े दिन टाला नहीं जा सकता था? उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को करतारपुर कॉरिडोर से ध्यान भटकाने की बजाय इस खुशी के मौके का हिस्सा बनना चाहिए था। लेकिन इस ख़ुशी के मौके पर उनकी असंवेदलशीलता देखकर मैं दुखी हूं।

वहीं पाक सेना के प्रवक्ता आसिफ़ ग़फ़ूर ने अयोध्या फैसले पर ट्वीट किया, ”दुनिया ने एक बार फिर से भारत का असली चेहरा देख लिया है। 5 अगस्त को कश्मीर से विशेष दर्जा छीनने के बाद आज बाबरी मस्जिद पर फ़ैसला आ गया है। दूसरी तरफ़ दूसरे धर्म का आदर करते हुए पाकिस्तान ने गुरु नानक के सेवकों के लिए करतारपुर कॉरिडोर खोल दिया।’

अयोध्या फैसले पर पाकिस्तान की टिप्पणी का जवाब देते हुए भारत ने कहा है कि हम सिविल मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर पाकिस्तान द्वारा की गई अनुचित और गंभीर टिप्पणियों को अस्वीकार करते है क्योंकि यह पूरी तरह से भारत का आंतरिक मामला है। नफरत फैलाने के इरादे से हमारे आंतरिक मामलों पर टिप्पणी करने के उनकी मजबूरी निंदनीय है।

Ayodhya : सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बॉलीवुड सेलेब्स की राय, जानिए किसने क्या कहा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *