काव्य पुस्तकों का हुआ विमोचन

जयपुर। बोधि प्रकाशन की ‘दीपक अरोड़ा स्मृति पांडुलिपि प्रकाशन योजना’ के चौथे वर्ष में चयनित-प्रकाशित दो काव्य पुस्तकों का विमोचन शनिवार को शहर के सुदर्शनपुरा स्थित बोधि प्रकाशन के सभागार में किया गया। योजना में चयनित कृतियों की रचनाकार अंजना टंडन व जोशना बैनर्जी को ‘दीपक अरोड़ा स्मृति सम्मान-2019 प्रदान किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि वरिष्ठ कवि एवं दूरदर्शन के पूर्व निदेशक श्रीकृष्ण कल्पित रहे। वहीं कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रसिद्ध कथाकार एवं जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय जोधपुर के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ. सत्यनारायण ने की। कार्यक्रम का संयोजन फिल्मकार और प्रतिष्ठित लेखक अविनाश त्रिपाठी ने किया। कार्यक्रम में दिल्ली से पधारे कवि एवं आलोचक रवीन्द्र कुमार दास ने दीपक अरोड़ा के रचनाकर्म पर विस्तार से चर्चा की। योजना के निर्णायक मंडल के सदस्य गोविन्द माथुर ने पांडुलिपियों की चयन प्रक्रिया पर अपना वक्तव्य दिया। मुख्य अतिथि कृष्ण कल्पित ने कवि दीपक अरोड़ा को याद करते हुए कहा कि वे बेहद प्रतिभावान कवि थे इसलिए उनका असमय चले जाना साहित्य की क्षति है। उन्होंने चयनित पुस्तकों पर अपनी पारखी टीप भी दी। कार्यक्रम में अध्यक्ष डॉ. सत्यनारायण ने चयनित पुस्तकों की दोनों रचनाकारों को बधाई दी। अतिथि कवियों के शानदार काव्य पाठ के साथ आयोजन का समापन हुआ। दीपक अरोड़ा की कविताओं का पाठ बनवारी कुमावत ‘राज’ ने किया। बोधि प्रकाशन की ओर से आयोजित कार्यक्रम में पधारे सभी लोगों का मायामृग ने आभार व्यक्त किया।

 

हिंदी दिवस पर पीएम मोदी और शाह ने दी शुभकामनाएं

पूनियां के भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बनने की खुशी में भाजपा कार्यकर्ताओं ने की आतिशबाजी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *