पंचायत चुनाव 2020 : जिला प्रमुखों की आरक्षण लॉटरी निकाली गई

जयपुर। राजस्थान में पंचायत चुनावों के लिए तैयारियां तेज हो गई हैं। जयपुर में जिला प्रमुखों के लिए वर्गवार आरक्षण लॉटरी निकाली गई। लॉटरी के बाद अब राजधानी जयपुर शहर और जिले में दोनों जगह महिलाओं का राज होगा। जयपुर के दोनों नगर निगम हैरिटेज और ग्रेटर महापौर के पद पहले से ही जहां महिलाओं के लिए आरक्षित हैं। वहीं अब जिला प्रमुख का पद भी महिला के लिए आरक्षित हो गया है। जयपुर में इंदिरा गांधी पंचायतीराज संस्थान में निकाली गई जिला प्रमुखों की आरक्षण लॉटरी के साथ ही प्रदेश में पंचायतीराज चुनाव के लिए तस्वीर मोटे तौर पर साफ हो गई है।

जिला प्रमुख की लॉटरी में 16 सीटें अनुसूचित जाति, जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित रखी गई हैं। जबकि करीब 50 फीसदी सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित की गई है।  इनमें अनुसूचित जाति की महिलाओं के लिए 3, जनजाति वर्ग और ओबीसी की महिलाओं के लिए 2-2 सीटें रिजर्व की गई है। जबकि सामान्य महिलाओं के लिए 8 सीटें रिजर्व रखी गई है. लॉटरी प्रमुख सचिव पंचायतीराज आरुषि अजय मलिक और अतिरिक्त मुख्य सचिव राजेश्वर सिंह की उपस्थिति में निकाली गई. इस दौरान सभी पार्टियों के प्रतिनिधि मौजूद रहे. यह है जिला प्रमुखों की जिलेवार आरक्षण की स्थिति, महिलाओं के लिए आरक्षित जिले – करौली, चूरू और हनुमानगढ़ (एससी), भीलवाड़ा और डूंगरपुर (एसटी), राजसमंद, झुझुंनू और झालावाड़ (ओबीसी), सीकर, जोधपुर, बारां, धौलपुर, जयपुर, पाली, टोंक और उदयपुर (अनारक्षित)।

मुख्यमंत्री पर कानुन व्यवस्था सम्भालने की जिम्मेदारी, वे खुद ही लोगों को भडक़ा रहे हैं-सतीश पूनियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *